Bhaktamar Stotra (भक्तामर स्तोत्र) PDF – Prem Singh Rathod

bhaktamar-stotra-pdf

 स्व. जैन दिवाकर प्रसिद्ध वक्ता श्री चौथमलजी म. सा. के प्रवचनों के आदि में भक्तामर स्तोत्र के श्लोकों का विवेचन रहा करता था उस विवेचन को डाक्टर प्रेमसिंहजी ने सुन्दर ढग से संकलित और सम्पादित किया है । श्री दिवाकर