Aadhunik Hindi Natak (आधुनिक हिंदी नाटक) – Dr. Nagendra

adhunik-hindi-natak-pdf

आंधुनिक हिन्दी-नाटक की पृष्ठ-भूमि – जो रचना श्रवण द्वारा ही नहीं अपितु दृष्टि द्वारा भी दर्शकों के हृदय में रसानुभूति कराती है उसे नाटक या दृश्य-काव्य कहते हैं। इस बात में शायद सभो नाम्यशास्त्री एक सत हैं कि नाटक के