Ramashwamegh Uttar Ramayan (रामाश्वमेध उत्तर रामायण) PDF

uttar-ramayan-pdf

रामाश्वमेध उत्तर रामायण – भक्ति-रसामृत-पान का सुअवसर प्रभु के असीम अनुग्रह पर अवलम्बित है। ब्रह्म की निर्गुण-भक्ति और सगुण-भक्ति, दोनों मेरे मानस को सदा से मुग्ध करती रही हैं। निर्गुण-भक्ति जहाँ एक ओर अपनी रहस्यात्मक गोपनीयता के फलस्वरूप मन को